4/13: परमेश्वर के गुणों को अभिव्यक्त करना।

4/13: परमेश्वर के गुणों को अभिव्यक्त करना।

  1. धन्यवाद ,इस खूबसूरत लिफ्ट के लिए हम सब जीवन के हर पहलु में दिव्या गुणों को अभिव्यक्त करते हैं और परमात्मा की अनंत अच्छाई को अनुभव करना चाहिये

  2. धन्यवाद लिखी जी इस सुंदर लिफ्ट के लिए, सच में हम सब गुणों से भरपूर हैं ज़रूरत है तो बस उनमें आनंदित होने की!हम सब साह्स, निडरता और सफूर्ति जैसे गुणों को अभिव्यक्त करते हैं शुक्रिया याद दिलाने के लिए!

  3. धन्यवाद श्री सुशील लिखी जी| फाइनल मैच के दिन मैने देखा कि लोग प्रार्थना भी कर रहे थे, लेकिन वे अपने देश की टीम की जीत के लिये कर रहे थे| आपके संदेश से मुझे पता चला कि दूसरों के गुणों को देखना ही प्रार्थना है|

  4. धन्यवाद श्री सुशील लिखी अपने सुंदर विचारों के द्वारे यह बताने के लिए कि हमें परमेश्वर ने सम्पूर्ण बनाया है, तथा हम सभी परमेश्वर के तथा दिव्य गुणों को सम्मिलित करते हैं।
    यह जानना कितना आनंददायक है कि हम परमेश्वर की अध्यात्मिक, सम्पूर्ण संतान हैं और उसके सभी गुणों को अभिव्यक्त करते हैं। हमें इन गुणों को पाने का प्रयत्न नहीं करना है, केवल इन्हें जानने, तथा अपने व्यवहार में लाने की आवश्यकता है।

  5. thank you sir

  6. मैंने (एक # 79 पर सहित) सभी टिप्पणियाँ पढ़ लिया है और हम में से कई के साथ अपनी प्रेरणा साझा करने के लिए आप में से हर एक को धन्यवाद. मेरे लिए प्रत्येक प्रेरणा मूल्यवान है, क्योंकि यह मन सब विचारों का स्रोत है.

hide comments-

Add a comment

*
 (The email address will not be shown)